महसूस होती है ।।

वो जो इश्क़ में महसूस होती थी, है कहीं जो जल रही है, महसूस होती है ।। अपनी अदालत में खड़ी होकर, अपनी सजा की गुहार लगाती, एक तड़प की तपिश भी, महसूस होती है ।।